Month: March 2019

मुंबई की आर्थर रोड जेल में बैरक शेयर करेंगे माल्या मोदी

Posted on


मुंबई | ब्रिटेन की वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में शुक्रवार को भगोड़े हीरे कारोबारी नीरव मोदी की प्रत्यर्पण सुनवाई के दौरान उस समय सभी के चेहरे पर मुस्कान छा गई, जब सुनवाई कर रहीं जज एमा आर्बुथनॉट ने पूछा कि भारत प्रत्यर्पित होने की दशा में क्या मोदी को भी विजय माल्या के साथ मुंबई की आर्थर रोड जेल की उसी बैरक में रखा जाएगा? सुनवाई शुरू होते ही जज आर्बुथनॉट ने पिछले साल दिसंबर में माल्या के प्रत्यर्पण का आदेश देने को याद करते हुए कहा कि उन्हें इस मामले (नीरव मोदी केस) में ‘देजा-वू’ जैसा अहसास हो रहा है।

भारत की तरफ से पेश ब्रिटिश सरकार की क्राउन प्रॉसीक्यूशन सर्विस के वकील ने जज एमा को बताया कि मोदी को भी माल्या की ही जेल बैरक में रखा जाएगा, जिसका वीडियो देखकर अदालत पहले ही वहां की सुविधाओं से संतुष्ट हो चुकी है। बता दें कि माल्या के लिए अदालत की तरफ से तय मानकों पर दोबारा तैयार कराई गई इसी बैरक में 26/11 मुंबई हमले का आतंकी अजमल कसाब भी फांसी दिए जाने से पहले तक कड़ी सुरक्षा में रखा गया था।

Advertisements

मुंबई पुलिस को नहीं मिला पारसी अफसर, गंवाया 78 बरस पुराना फ्लैट

Posted on


मुंबई  | किराए के मकानों की किल्‍लत के दौरान मुंबई पुलिस के हाथों से एक लक्‍जरी फ्लैट सिर्फ इसलिए छिना जा रहा है क्‍योंकि वे एक साधारण सी शर्त पूरी नहीं कर पा रहे हैं। ताड़देव, मुंबई के धुन्जिभाई अपार्टमेंट का यह फ्लैट 1940 से मुंबई पुलिस के अधिकारियों को किराए पर मिलता रहा है लेकिन यह लंबी परंपरा अब खत्‍म हो गई क्‍योंकि उनके बीच अब पारसी पुलिस अफसर नहीं रह गए हैं।

2008 से यह घर खाली है
असल में यह मकान पारसी कॉलोनी में था जिसकी देखभाल महालक्ष्‍मीवाला ट्रस्‍ट किया करता है। मुंबई पुलिस को 1940 में यह घर मामूली से किराए पर इस शर्त के साथ दिया गया था कि इसमें कोई पारसी पुलिस अफसर ही रहेगा। इस फ्लैट में रहने वाले आखिरी पुलिस अफसर सहायक पुलिस आयुक्‍त फिरोज गंजिया थे। उनके रिटायरमेंट के बाद 2008 से यह घर खाली है।

पुलिस वालों को मकान अलॉट करने के लिए तत्‍कालीन पुलिस आयुक्‍त सुबोध जायसवाल ने ई-आवास योजना शुरू की थी। इसके तहत हर महीने के शुरू में खाली मकानों की जानकारी संबंधित थानों को मिल जाती थी। कोल्‍हापुर से मुंबई ट्रांसफर पर आए सहायक पुलिस आयुक्‍त विनायक नारले को घर की तलाश थी। ई-आवास के जरिए उन्‍हें धुन्जिभाई अपार्टमेंट का खाली मकान आवंटित हुआ। जब वह वहां पहुंचे तो वहां के पारसी निवासियों ने उन्‍हें मना कर दिया। नारले ने पुलिस को जानकारी दी।

केवल दो पारसी अधिकारी मिले 
इसके बाद शर्त के अनुसार पारसी अधिकारियों की तलाश हुई। पूरी मुंबई पुलिस फोर्स में केवल दो पारसी अधिकारी पाए गए। उनमें से एक तो प्रतिनियुक्ति पर मुंबई से बाहर है और दूसरे के पास अपना मकान है। ऐसे हालात में मुंबई पुलिस ने फैसला किया है कि यह फ्लैट महालक्ष्‍मीवाला ट्रस्‍ट को सौंप दिया जाए। जल्‍द ही इस बारे में गृह मंत्रालय को जानकारी दे दी जाएगी।

पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक ए. के. गुप्ता द्वारा महालक्ष्मी स्थित ईएमयू कारखाने का निरीक्षण

Posted on


मुंबई | पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक  ए. के. गुप्ता ने गुरुवार, 29 मार्च, 2019 को मुंबई के महालक्ष्मी स्थित ईएमयू कारखाने का सघन निरीक्षण किया।  गुप्ता ने प्रमुख मुख्य यांत्रिक इंजीनियर श्री अशेष अग्रवालमुंबई सेंट्रल मंडल के मंडल रेल प्रबंधक श्री सुनील कुमार तथा पश्चिम रेलवे के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ निरीक्षण किया। श्री गुप्ता ने शाकू कपलर सेक्शन,ट्रैक्शन मोटर  शॉपबोगी लिफ्टिंग शॉपकम्प्यूटरीकृत वीसीबी टेस्टिंग सिस्टमपीएलसी आधारित ब्रेक इक्वीपोलेंट्स टेस्टिंग सुविधाओं का निरीक्षण किया।

 

      पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी  रविंद्र भाकर द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार  ए. के. गुप्ता ने निरीक्षण के बाद शॉप फ्लोर में काम करने वाले स्टाफ के लिए इंडस्ट्रियल आरओ वॉटर प्लांट का उद्घाटन किया। उन्होंने ट्रैवर्सर लेवल रेजिंग तथा ड्रेनेज के कार्यों की प्रगति की समीक्षा की तथा कार्य को जल्द पूर्ण करने के लिए महत्त्वपूर्ण एवं आवश्यक निर्देश दिये। श्री गुप्ता ने उत्तर रेलवे की रेक को पश्चिम रेलवे के विन्यासों के अनुसार सुटेबल बनाने के लिए ईएमयू वर्कशॉप के प्रयासों की सराहना की। बाद में श्री गुप्ता ने शॉप फ्लोर में काम करने वाली महिला कर्मचारियों से बात की तथा उनकी समस्याओं को जाना। साथ ही श्री गुप्ता ने खिलाड़ियोंकल्चरल टीम के सदस्यों तथा महालक्ष्मी कारखाने के यूनियन के पदाधिकारियों के साथ विचार-विमर्श भी किया। महालक्ष्मी कारखाने के मुख्य कारखाना प्रबंधक श्री एस. के. वर्मा ने कारखाने द्वारा अर्जित विभिन्न उपलब्धियों पर आधारित प्रजेंटेशन दिया। श्री गुप्ता ने डिब्बों की पीओएच गुणवत्ता को बनाये रखने के लिए कारखाने के गम्भीर प्रयासों की सराहना की तथा इस उत्कृष्ट कार्य के लिए कर्मचारियों को पुरस्कृत किया।

पश्चिम रेलवे द्वारा 16 ग्रीष्मकालीन विशेष ट्रेनों की कुल 344 सेवाएँ अधिसूचित

Posted on


पश्चिम रेलवे द्वारा मुंबई से जयपुरअजमेरजम्मू तवी एवं गोरखपुर के अलावा, पटनागांधीधाम से अमृतसर और उधना सेआगरा कैंट के लिए और ग्रीष्मकालीन विशेष ट्रेनों के 158 फेरे चलाने का निर्णय

मुंबई|  यात्रियों की बेहतर सुविधा के लिए तथा ग्रीष्मकालीन अवकाश के दौरान अतिरिक्त भीड़ को कमकरने के लिए पश्चिम रेलवे द्वारा 8 ग्रीष्मकालीन विशेष ट्रेनों की 186 सेवाएँ पहले ही विभिन्न गंतव्योंजैसे नई दिल्ली, इंदौर, गांधीधाम, पटना, मैंगलोर इत्यादि के लिए अधिसूचित की जा चुकी हैं। इसी क्रममें पश्चिम रेलवे द्वारा 8 और ग्रीष्मकालीन विशेष ट्रेनों की 158 सेवाओं को मुंबई से जयपुर, अजमेर,जम्मू तवी और गोरखपुर के अलावा अहमदाबाद से पटना, गांधीधाम से अमृतसर और उधना से आगराकैंट के लिए परिचालित करने का निर्णय लिया गया है। पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्रीरविंद्र भाकर द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, इन नई विशेष ट्रेनों के शामिल हो जाने से पश्चिमरेलवे द्वारा अब तक कुल 16 ग्रीष्मकालीन विशेष ट्रेनों की 344 सेवाओं की अधिसूचना जारी की जा चुकीहै। ये सभी विशेष ट्रेनें विशेष किराये के साथ परिचालित होंगी।

  • ट्रेन सं. 09724/09723 बांद्रा टर्मिनस-जयपुर साप्ताहिक सुपरफास्ट विशेष ट्रेन विशेष किराये के साथ (26 फेरे)

    ट्रेन सं. 09724 बांद्रा टर्मिनस-जयपुर साप्ताहिक सुपरफास्ट विशेष ट्रेन बांद्रा टर्मिनस से प्रत्येक गुरुवार को 06.15 बजे रवाना होकर अगले दिन 03.10 बजे जयपुर पहुँचेगी। यह ट्रेन 4 अप्रैल से 27जून, 2019 तक चलेगी।

    इसी प्रकार, वापसी यात्रा में ट्रेन सं. 09723 जयपुर-बांद्रा टर्मिनस साप्ताहिक सुपरफास्ट विशेष ट्रेन  जयपुर से प्रत्येक बुधवार को 08.10 बजे रवाना होकर अगले दिन 04.45 बजे बांद्रा टर्मिनस पहुँचेगी। यह ट्रेन 3 अप्रैल से 26 जून, 2019 तक चलेगी।

    इस ट्रेन में फर्स्ट एसी, एसी 2 टियर, एसी 3 टियर, शयनयान तथा द्वितीय श्रेणी के सामान्यडिब्बे होंगे। यह ट्रेन यात्रा के दौरान दोनों दिशाओं में बोरीवली, सूरत, वडोदरा, रतलाम, नीमच,चित्तौड़गढ़, भीलवाड़ा, अजमेर, किशनगढ़  और कनकपुरा स्टेशनों पर ठहरेगी।

  • ट्रेन सं. 09622/09621 बांद्रा टर्मिनस-अजमेर साप्ताहिक सुपरफास्ट विशेष ट्रेन विशेष किराये के साथ (26 फेरे)

   ट्रेन सं. 09622 बांद्रा टर्मिनस-अजमेर साप्ताहिक सुपरफास्ट विशेष ट्रेन बांद्रा टर्मिनस से प्रत्येक सोमवार को 06.15 बजे रवाना होकर अगले दिन 03.40 बजे अजमेर पहुँचेगी। यह ट्रेन 8 अप्रैल से 1जुलाई, 2019 तक चलेगी।

    इसी प्रकार, वापसी यात्रा में ट्रेन सं. 09621 अजमेर-बांद्रा टर्मिनस साप्ताहिक सुपरफास्ट विशेष ट्रेन अजमेर से प्रत्येक रविवार को 06.35 बजे रवाना होकर अगले दिन 04.45 बजे बांद्रा टर्मिनस पहुँचेगी।यह ट्रेन 7 अप्रैल से 30 जून, 2019 तक चलेगी।

   इस ट्रेन में एसी 2 टियर, एसी 3 टियर, शयनयान तथा द्वितीय श्रेणी के सामान्य डिब्बे होंगे।यह ट्रेन यात्रा के दौरान दोनों दिशाओं में बोरीवली, सूरत, वडोदरा, रतलाम, भवानी मंडी, कोटा, सवाई माधोपुर, दुर्गापुरा, जयपुर और किशनगढ़ स्टेशनों पर ठहरेगी।

  • ट्रेन सं. 09021/09022 बान्द्रा टर्मिनस-जम्मू तवी साप्ताहिक एसी सुपरफास्ट विशेष ट्रेन      विशेष किराये के साथ (22 फेरे)

ट्रेन सं. 09021 बान्द्रा टर्मिनस-जम्मू तवी साप्ताहिक एसी सुपरफास्ट विशेष ट्रेन बान्द्रा टर्मिनस से प्रत्येक सोमवार को 05.10 बजे प्रस्थान करेगी और अगले दिन 15.30 बजे जम्मू तवी पहुँचेगी। यह ट्रेन15 अप्रैल से 24 जून, 2019 तक चलेगी।

इसी प्रकार, वापसी में ट्रेन सं. 09022 जम्मू तवी साप्ताहिक एसी सुपरफास्ट विशेष ट्रेन जम्मू तवी से प्रत्येक बुधवार को 2.30 बजे प्रस्थान करेगी और गुरुवार को 10.20 बजे बांद्रा टर्मिनस पहुँचेगी। यह ट्रेन 17 अप्रैल से 26 जून, 2019 तक चलेगी।

इस ट्रेन में एसी टियर, एसी 3 टियर तथा एसी चेयरकार डिब्बे होंगे। यह ट्रेन यात्रा के दौरान दोनों दिशाओं में बोरीवली, वापी, सूरत, भरूच, वडोदरा, गोधरा, दाहोद, रतलाम, नागदा, कोटा, सवाई माधोपुर, हिंडौन सिटी, मथुरा जं., नई दिल्ली, अम्बाला कैंट, लुधियाना, जालंधर कैंट तथा पठानकोट कैंट स्टेशनों पर ठहरेगी।

  • ट्रेन सं. 82909/82910 बांद्रा टर्मिनस-गोरखपुर साप्ताहिक  सुविधा विशेष ट्रेन (14 फेरे)

 ट्रेन सं. 82909 बांद्रा टर्मिनस-गोरखपुर साप्ताहिक सुविधा विशेष ट्रेन प्रत्येक शनिवार को बांद्रा टर्मिनस से 6.40 बजे प्रस्थान करेगी और अगले दिन

तमिलनाडु में डीएमके नेता और पत्नी की हत्या करने वाला मुंबई से गिरफ्तार 

Posted on


हत्या की डर से नाम बदलकर मुंबई में छिपा था आरोपी
मुंबई .तमिलनाडु के द्रमुक (डीएमके ) पार्टी के वरिष्ठ नेता और उसकी पत्नी की हत्या कर फरार आरोपी को दो  साल बाद मुंबई के सायन से गिरफ्तार किया गया है | ब्लॅक फॉरवर्ड पार्टी  का पदाधिकारी आरोपी जमानत के बाद से फरार होकर मुंबई में नाम बदलकर छिपा हुआ था |

जानकारी अनुसार गिरफ्तार आरोपी का नाम प्रकाश जगदीश पंडियन उर्फ अभिमन्यू देवरे (31 ) है |अभिमन्यु सायन में अपने एक दोस्त के घर पर रह रहा था | तमिलनाडु में  डीएमके और ब्लैक फॉरवर्ड पार्टी के बिच पिछले कई वर्षो से विवाद शुरू है | 1985 में ब्लैक फॉरवर्ड पार्टी के वरिष्ठ नेता  वेलोतेवार  की हत्या कर दी गई थी | इसके बाद से राज्य में राजकीय विवाद लगातार चालु था | इसके बाद  वेलोतेवार की हत्या का बदला लेने के लिए   ब्लॅक फॉरवर्ड के कार्यकर्ताओ ने 2012 में तमिलनाडु के  विरधुरनगर के डीएमके नेता एस.आर.नागराजन और उनकी पत्नी की हत्या कर दी गई थी | हत्या के बाद ब्लॅक फॉरवर्ड  पार्टी के 7 कार्यकर्ताओ को गिरफ्तार किया गया था |  प्रकाश जगदीश पंडियन दो वर्ष पहले जमानत पर बाहर आया था |

                      जमानत पर बाहर आने के बाद आरोपी की हत्या करने की कोशिस
 दो वर्ष पहले जमानत पर बाहर आने के बाद प्रकाश  पंडियन   पर डीएमके पार्टी के कार्यकर्ताओ द्वारा दो बार हत्या करने की कोशिस की गई थी |   इस हमले ने पंडियन बाल बाल बचा था | लेकिन डीएमके के कार्यकर्ताओ द्वारा उसकी हत्या हो सकती है | इस डर से वह फरार हो कर तमिलनाडु से मुंबई भाग आया | यहां आने के बाद सायन में अपने दोस्त के पास अभिमन्यु देवरे के नाम से रहने लगा | पंडियन हत्या के डर से तमिलनाडु कोर्ट में जाना भी बंद कर दिया | आखिर कार पंडियन कोर्ट में हाजिर नहीं होने के कारण उसके खिलाफ गिरफ़्तारी वारंट निकाला गया | जिसके बाद पुलिस को जानकारी मिली की वह मुंबई है | जिसके बड़ा तमिलनाडु पुलिस सायन पुलिस की मदद से पंडियन को गिरफ्तार कर लिया है |