Month: September 2016

संदिग्ध आतंकियों की है नवी मुंबई पुलिस को तलाश

Posted on


इन

इन संदिग्ध आतंकियों की है मुंबई पुलिस को तलाश

पुलिस ने पड़ोसी रायगढ़ जिले में उरण स्थित नौसैन्य प्रतिष्ठान के पास दिखे संदिग्धों के स्केच जारी किए हैं। इन संदिग्धों को ढूंढ़ने के लिए विभिन्न एजेंसियों के खोजी अभियान जारी हैं और मुंबई के तटीय इलाकों तथा आसपास के क्षेत्रों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। पुलिस ने शुक्रवार (23 सितंबर) को कहा कि हथियारों से लैस संदिग्धों को देखने वाले कुछ स्कूली बच्चों से मिले ब्यौरे के आधार पर संदिग्धों के स्केच गुरुवार देर रात जारी किए गए। उरण और आसपास के इलाकों के स्कूलों और कॉलेजों को आज (शुक्रवार, 23 सितंबर) बंद कर दिया गया है। नौसैन्य प्रवक्ता राहुल सिन्हा ने पहले कहा था, ‘रिपोर्टों के अनुसार, पठानी सूट पहने पांच से छह लोगों को देखा गया था और वे हथियार लिए हुए थे तथा कमर पर बैग टांगे हुए थे।’ कुछ रिपोर्टों में कहा गया कि ये संदिग्ध सैन्य वर्दी में थे। नौसेना, तटरक्षक, सीआईएसएफ और त्वरित प्रतिक्रिया बल की मदद से उरण और करांजा इलाकों में खोजी अभियान चलाए जा रहे हैं लेकिन पुलिस को अब तक संदिग्धों का सुराग नहीं मिल पाया है।

पुलिस ने कहा कि नेशनल सिक्योरिटी गार्ड (एनएसजी) और राज्य पुलिस की विशेष इकाई फोर्स वन को भी खोज कार्य में लगा दिया गया है। नवी मुंबई के पुलिस आयुक्त ने पूरी रात शीर्ष अधिकारियों के साथ मिलकर स्थिति का जायजा लिया। इलाके में पुलिस और अन्य सुरक्षा एजेंसियों द्वारा कड़ी निगरानी रखी जा रही है। रायगढ़ के उरण स्थित नौसैन्य प्रतिष्ठान के पास कुछ लोगों के समूह को संदिग्ध अवस्था में देखे जाने के बाद गुरुवार को मुंबई के तटीय एवं आसपास के इलाकों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया। इस अलर्ट से चार ही दिन पहले उरी में आतंकी हमला हुआ था, जिसमें 18 जवान शहीद हो गए थे।

नौसेना ने निगरानी के लिए अपने हेलीकॉप्टर उतार दिए हैं और पोतों एवं तेज गति की नौकाओं की मदद से समुद्र में गश्त बढ़ा दी है। पुलिस ने कहा कि इन संदिग्धों को सबसे पहले उरण एजुकेशन सोसाइटी स्कूल के कुछ बच्चों ने देखा था। इसके बाद उनके शिक्षक ने पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पश्चिमी नौसैन्य कमान ने मुंबई, नवी मुंबई, ठाणे और रायगढ़ तटों के आसपास ‘उच्चतम स्तर का अलर्ट’ जारी कर दिया। इन इलाकों में कई संवेदनशील प्रतिष्ठान और संपत्तियां हैं।

पश्चिमी भारत का सबसे बड़ा नौसैन्य अड्डा, भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र, उर्वरक संयंत्र, रिफाइनरी, बिजली संयंत्र और जेएनपीटी बंदरगाह भी उरण के पास ही हैं। 26/11 के हमलों के बाद से तटीय सुरक्षा शीर्ष प्राथमिकता रही है। उन हमलों को अंजाम देने वाले पाकिस्तानी आतंकवादी समुद्री मार्ग से आए थे और उन्होंने मुंबई में कई स्थानों को निशाना बनाया था। उरण के पास स्थित प्रतिष्ठान में मारकोस की आवासीय इकाइयां भी हैं। मारकोस नौसेना की विशेष इकाई है।

 

नवी मुंबई:पुलिस ने पड़ोसी रायगढ़ जिले में उरण स्थित नौसैन्य प्रतिष्ठान के पास दिखे संदिग्धों के स्केच जारी किए हैं। इन संदिग्धों को ढूंढ़ने के लिए विभिन्न एजेंसियों के खोजी अभियान जारी हैं और मुंबई के तटीय इलाकों तथा आसपास के क्षेत्रों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। पुलिस ने शुक्रवार (23 सितंबर) को कहा कि हथियारों से लैस संदिग्धों को देखने वाले कुछ स्कूली बच्चों से मिले ब्यौरे के आधार पर संदिग्धों के स्केच गुरुवार देर रात जारी किए गए। उरण और आसपास के इलाकों के स्कूलों और कॉलेजों को आज (शुक्रवार, 23 सितंबर) बंद कर दिया गया है। नौसैन्य प्रवक्ता राहुल सिन्हा ने पहले कहा था, ‘रिपोर्टों के अनुसार, पठानी सूट पहने पांच से छह लोगों को देखा गया था और वे हथियार लिए हुए थे तथा कमर पर बैग टांगे हुए थे।’ कुछ रिपोर्टों में कहा गया कि ये संदिग्ध सैन्य वर्दी में थे। नौसेना, तटरक्षक, सीआईएसएफ और त्वरित प्रतिक्रिया बल की मदद से उरण और करांजा इलाकों में खोजी अभियान चलाए जा रहे हैं लेकिन पुलिस को अब तक संदिग्धों का सुराग नहीं मिल पाया है।

पुलिस ने कहा कि नेशनल सिक्योरिटी गार्ड (एनएसजी) और राज्य पुलिस की विशेष इकाई फोर्स वन को भी खोज कार्य में लगा दिया गया है। नवी मुंबई के पुलिस आयुक्त ने पूरी रात शीर्ष अधिकारियों के साथ मिलकर स्थिति का जायजा लिया। इलाके में पुलिस और अन्य सुरक्षा एजेंसियों द्वारा कड़ी निगरानी रखी जा रही है। रायगढ़ के उरण स्थित नौसैन्य प्रतिष्ठान के पास कुछ लोगों के समूह को संदिग्ध अवस्था में देखे जाने के बाद गुरुवार को मुंबई के तटीय एवं आसपास के इलाकों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया। इस अलर्ट से चार ही दिन पहले उरी में आतंकी हमला हुआ था, जिसमें 18 जवान शहीद हो गए थे।

नौसेना ने निगरानी के लिए अपने हेलीकॉप्टर उतार दिए हैं और पोतों एवं तेज गति की नौकाओं की मदद से समुद्र में गश्त बढ़ा दी है। पुलिस ने कहा कि इन संदिग्धों को सबसे पहले उरण एजुकेशन सोसाइटी स्कूल के कुछ बच्चों ने देखा था। इसके बाद उनके शिक्षक ने पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पश्चिमी नौसैन्य कमान ने मुंबई, नवी मुंबई, ठाणे और रायगढ़ तटों के आसपास ‘उच्चतम स्तर का अलर्ट’ जारी कर दिया। इन इलाकों में कई संवेदनशील प्रतिष्ठान और संपत्तियां हैं।

पश्चिमी भारत का सबसे बड़ा नौसैन्य अड्डा, भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र, उर्वरक संयंत्र, रिफाइनरी, बिजली संयंत्र और जेएनपीटी बंदरगाह भी उरण के पास ही हैं। 26/11 के हमलों के बाद से तटीय सुरक्षा शीर्ष प्राथमिकता रही है। उन हमलों को अंजाम देने वाले पाकिस्तानी आतंकवादी समुद्री मार्ग से आए थे और उन्होंने मुंबई में कई स्थानों को निशाना बनाया था। उरण के पास स्थित प्रतिष्ठान में मारकोस की आवासीय इकाइयां भी हैं। मारकोस नौसेना की विशेष इकाई है।

Advertisements

भाईगिरी को जवाब देने ताईगिरी 

Posted on Updated on


भाईगिरी को जवाब देने के लिए भूमाता ब्रिगेड का ताईगिरी की स्थापना

दुर्गा अष्टमी को करेंगे लाठी वितरण
10 जिलो से होगा इस की सुरुवात
नागमणि पाण्डेय

नवी मुंबई :महिलाओ के साथ भाईगिरी कर छेड़ खानी करने वालो पर लगाम लगाने के लिए अब भूमाता ब्रिगेड ने ताईगिरी के माध्यम से जवाब देने का निर्णय लिया है | इस के लिए दुर्गा अष्टमी को पुणे में महिलाओ को लाठी वितरित कर इस की शुरुवात किये जाने की जानकारी भूमाता ब्रिगेड की तृप्ति देसाई ने नवभारत को दिया |
भूमाता ब्रिगेड की तृप्ति देसाई सोमवार को पुणे से मुंबई के तरफ जाते समय खारघर में  बातचीत करते हुए बताया की भाईगिरी को जवाब देने के लिए अब भूमाता ब्रिगेड की ताईगिरी दल सड़को पर उतरने वाला है |महिलाओ के साथ छेड़खानी ,विनयभंग करने वाले रोडरोमियो को सबक सिखाने के लिए महिलाओ का ताईगिरी दल कार्यरत रहेगा |पुणे से आने वाले दुर्गा अष्टमी के मुहूर्त पर तृप्ति देसाई इस की घोषणा करने वाले है इस दौरान महिलाओ को लाठी वितरित किया जाएगा | सुरुवात में १० जिलो में इस दल की स्थापना किया जायेगा | दुर्गा अष्टमी के अवसर पर भूमाता ब्रिगेड आने वाले नवरात्रि में ताईगिरी की स्थापना करने वाली है तृप्ति देसाई ने बताया की प्रत्येक महिलाओ को खुद की सुरक्षा के लिए पास में लाठी रखने की जनजागृति राज्य भर में महिलाओ को किया जायेगा |

      मंदिरों में महिलाओ को प्रवेश दिलाने वाली तृप्ति देसाई को बिग बॉस का निमंत्रण

मंदिरों में महिलाओ को प्रवेश दिलाने वाली भूमाता ब्रिगेड की तृप्ति देसाई को अब बिग बॉस का निमंत्रण आया है भूमाता ब्रिगेड के माध्यम से राज्य भर में सक्रीय तृप्ति देसाई को बिग बॉस का निमंत्रण स्वीकार करती है क्या इस तरफ सभी की नजर लगी है | इस बारे में बोलते हुए तृप्ति देसाई ने बताया की उन्हें बिग बॉस में जाने से विरोध नही का स्पष्ट किया लेकिन बिग बॉस में महिलाओ को प्रतिनिधित्व दिया गया तभी वह बिग बॉस में जायेंगे | इस बारे में उन्होंने बिग बॉस के प्रतिनिधियों से बात कर चुके है |