Month: June 2014

मेट्रो का टिकट चेकिंग सिस्टम फेल

Posted on


Image

Advertisements

पुलिस भर्ती में धोखाधड़ी करने वाले दो के खिलाफ मामला दर्ज

Posted on


मुंबई : मुंबई पुलिस भर्ती के दौरान फर्जी कागजात का उपयोग कर पुलिस के साथ धोखाधड़ी करने वाले दो लोगो के खिलाफ वकोला पुलिस  दर्ज कर लिया है । इस मामले में वकोला पुलिस को एक आरोपों को गिरफ्तार कर फरार दूसरे आरोपी की तलाश कर रही है । 

  • एक गिरफ्तार , एक की तलाश जारी 
        वकोला पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज किये आरोपियों में रमाशंकर सरोज (23 ) और नितिन कुटे (22 ) का समावेश है इस मामले में पुलिस ने रमाशंकर को गिरफ्तार कर नितिन की तलाश कर रही है । वकोला पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक विनायक मुले ने दिए जानकारी अनुसार वरली स्थित आदर्श नगर के जनता कॉलोनी में रहने वाले दोनों आरोपी बचपन के दोस्त है ।  रमाशंकर का शिक्षा पूरा होने के बाद यूपीएससी की तयारी कर रहा है । इस बीच उस का दोस्त नितिन ने मुंबई पुलिस भर्ती के लिए आवेदन किया था । उस ने मैदानी परीक्षा में अधिक अंक पाने के लिए रमाशंकर को अपने जगह भेजने का प्लान बनाया उस के लिए नितिन ने अपने आधार कार्ड का डुब्लीकेट आधार कार्ड बनाकर उस के फोटो पर रमाशंकर का फोटो लगाया । इस बीच मैदानी परीक्षा के दौरान पुलिस ने जब जांच किया तो आधार कार्ड पर संदेह हुआ इस के बाद इस की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियो को दिया गया । जिस के बाद पुलिस ने दोनों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर रमाशंकर को गिरफ्तार कर लिया है । जब की फरार नितिन की तलाश पुलिस कर रही है । पुलिस ने जांच में पाया है की नितिन एक पुलिस अधिकारी का लड़का है । उस ने ही रमाशंकर को इस के लिए तैयार किया है । रमाशंकर की आर्थिक स्थिति ख़राब होने के कारण  चंद  रुपयो की लालच में आकर नितिन की जगह जाने का निर्णय लिया था । पुलिस नितिन को पकड़ने के लिए कई टीम भेजी है लेकिन अभी तक पुलिस के हाथ लगा नही है । 

छोटा राजन गिरोह का कुख्यात अपराधी विजय का साथीदार गिरफ्तार

Posted on


  • एक कट्टा और एक पिस्तौल के साथ गिरफ्तार 
मुंबई : मुंबई क्राइम ब्रांच यूनिट – 7 ने ईस्टर्न एक्सप्रेस वे पर ऐरोली टोल नाके के पास से पिछले सप्ताह गिरफ्तार किये  छोटा राजन गिरोह के कुख्यात आरोपी से पूछ ताछ के पास उस के साथ के आरोपी को घाटकोपर से गिरफ्तार कर लिया है । गिरफ्तार आरोपी के पास से एक कट्टा ,एक पिस्तौल सहित चार जिन्दा कारतूस क्राइम ब्रांच ने बरामद कर लिया है । 
        जानकारी अनुसार गिरफ्तार आरोपी का नाम रविंद्र  सीताराम भाउर  उर्फ़ रवि उर्फ़ बच्चा (23 ) का  समावेश है । क्राइम ब्रांच यूनिट -7  ने पिछले सप्ताह ईस्टर्न एक्सप्रेस वे पर ऐरोली टोल नाके के पास से जाल बिछाकर छोटा राजन गिरोह का कुख्यात आरोपी विजय उर्फ़ राजू महाडिक को गिरफ्तार किया था । इस के पास के घातक हथियार भी पुलिस ने बरामद किया था । इस बीच पुलिस ने इस से किये पूछ ताछ में जानकारी मिली की विजय ने कुछ हथियार ठाणे के वागले इस्टेट में रहने वाले रवीन्द्र  को दिया । रवीन्द्र शुक्रवार सुबह घाटकोपर बस डिपो के पास स्थित रुचिरा होटल के पास अपने दोस्त को मिलने  आने वाला है । उस के अनुसार क्राइम ब्रांच ने घाटकोपर बस डिपो के पास जाल बिछाकर रवीन्द्र  को  संदेह के आधार पर हिरासत में लेकर तलाशी लिए जाने पर उस के पास से एक कट्टा , एक पिस्तौल और चार जिंदा  कारतूस बरामद किया गया । इस के बाद पुलिस ने रविन्द्र को गिरफ्तार कर लिया है । जांच में पता चला है की रविन्द्र यह हथियार अपने दोस्तों को देने के लिए आया था । पुलिस ने बताया की रवीन्द्र छोटा राजन गिरोह का कुख्यात आरोपी विजय के लिए काम करता है । इस के लिए पुलिस ने  विजय के खिलाफ भी मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया है । 

नाबालिग के साथ गैंग रेप

Posted on


मुंबई : वडाला टीटी  में एक 16  वर्षीय नाबालिग  के साथ गैंग रेप किये जाने का मामला सामने आया है । इस मामले में वडाला टीटी  पुलिस ने दो युवको के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है । जब की इस मामले का दूसरा आरोपी नाबालिक होने के कारन बालसुधार गृह में भेज दिया है ।                                                                                               Image

         वडाला टीटी पुलिस के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक सुभाष गरुड़ ने दिए जानकारी अनुसार 16  वर्षीय लड़की के साथ बलात्कार करने के आरोप गिरफ्तार आरोपी का नाम संजय राजेंद्र  मिश्रा (20  है तो दूसरा आरोपी नाबालिक है जिसे बालसुधार गृह भेज दिया गया है ।  वडाला में रहने वाली 16  वर्षीय लड़की के पड़ोस में रहने वाले उक्त दोनों युवक 11  जून को उस के घर में प्रवेश कर  घर का दरवाजा बंद कर उस के साथ बलात्कार किये । बलात्कार किये जाने के बाद से लड़की बेहोश होने के बाद उसे छोड़कर फरार हो गए थे । इस के कुछ देर बाद जब लड़की के घर वाले आये तो देखे की लड़की बेहोश पड़ी है । इस के बाद उसे सायन  अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती किये । जंहा  डॉक्टरों ने लड़की के साथ बलात्कार किये जाने की पुष्टि करने के साथ ही इस की  जानकारी वडाला टीटी  पुलिस को दिया । वडाला टीटी  पुलिस अस्पताल पहुंचकर घटना की जानकरी लिया इस मामले में प्राथमिक मामला दर्ज कर लड़की के होश में आने का इनतजार में थी । इस बीच गुरुवार को लड़की होश में आने के बाद इस की जानकारी घर वालो को दिया । जिस के बाद घर वालो ने शुक्रवार सुबह इस की शिकायत वडाला टीटी  पुलिस स्टेशन में दर्ज करायी । वडाला टीटी  पुलिस ने इस मामले में बलात्कार का मामला दर्ज  लिया । इस मामले में एक युवक नाबालिक  के कारण  पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर बाल सुधर गृह भेज  दिया है जब की दूसरे आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है । 

नेस से क़ानूनी लड़ाई लड़ने के लिए प्रीति तैयार

Posted on


मुंबई :प्रीति-नेस मामले में अब नया मोड़ आने की संभावना है क्यों इस मामले में प्रीति ने पुलिस को जानकारी दिया है की उनके समक्ष आकर अपना बयान  दर्ज कराएंगी इस के लिए बाकायदा पूरी तयारी में पुलिस के समक्ष आने की भी जानकारी प्रीति ने दिया है । इस से साफ़ हो गया है की प्रीति अब अपने प्रेमी को माफ़ करने की मूड  में  नही है ।  

                    

  • नेस से क़ानूनी लड़ाई लड़ने के लिए प्रीति तैयार 
  • पुलिस के समक्ष आकर बयान देने को तैयार 
  • शनविार को आने के बाद रविवार को दर्ज करा सकती है बयान            
                                                     पुलिस उपयुक्त रवींद्र शिसवे ने बताया है की इस मामले में  लेकिन शुक्रवार को एक और गवाह का बयान  दर्ज किया गया  है इस के साथ ही इस मामले में  अभी तक सात गवाहों का बयान  दर्ज किया जा चूका है । पुलिस उपयुक्त रवींद्र शिसवे ने बताया कि प्रीति जिंटा शनिवार तक मुंबई पहुंच सकती है। इसके बाद रविवार को प्रीति जिंटा का बयान दर्ज किया जा सकता है,  शिसवे ने यह भी बताया कि प्रीति जिंटा के आने के बाद सभी गवाहों की नए सिरे से सूची तैयार की जाएगी। इस के साथ ही पुलिस ने आईपीएल चेयरमैन का भी बयान दर्ज करने वाली है । आईपीएल के चेयरमैन रंजीत बिसवाल से जब पुलिस ने बयान दर्ज करने को कहा, तो उन्होंने कहा कि वह शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया के लिए रवाना हो रहे है और वह अगले सप्ताह ऑस्ट्रेलिया से आने के बाद अपना बयान दर्ज कराएंगे। पुलिस उपयुक्त ने बताया की इस मामले में टीम की खिलाड़ियों की सूचि मांगी गयी थी लेकिन अभी तक पुलिस को इस की जानकारी नही मिला है । इस के लिए पुलिस को अनुमान है की प्रीति के आने के बाद खिलाड़ियों की लिस्ट भी मिल जायेगा उस के बाद जरुरत पड़ने पर  उन का भी बयान  दर्ज किया जा सकता है 

प्रीति-नेस मामले में सचिन तेंदुलकर के पुत्र अर्जुन होंगे गवाह !

Posted on Updated on


प्रीति-नेस मामले में सचिन तेंदुलकर के पुत्र अर्जुन होंगे गवाह !

मुंबई। प्रीती -नेस मामले में प्रीति जिंटा द्वारा दर्ज किये गए शिकायत मामले में मुंबई पुलिस क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर के पुत्र अर्जुन तेदुलकर से  पूछताछ कर सकती है। लेकिन अभी तक इस की पुष्टि नही किया गया है | बताया जा रहा है है प्रीति जिंटा के साथ हुए इस कथित घटना के दौरान उस वक्त अर्जुन  वहीं मौजूद थे |मुंबई पुलिस ने प्रीति इस हफ्ते के अंत तक अपना बयान दर्ज करवाने के लिए कहा है। इससे पहले, प्रीति ने कहा कि वह किंग्स इलेवन पंजाब की अपनी हिस्सेदारी नहीं बेच रहीं हैं।

 

प्रीति -नेस मामले में बीसीसीआई सीईओ का बयान दर्ज

Posted on


251 सीसीटीवी कैमरों के फुटेज की होगी जांच 
 

मुंबई : प्रिटी-नेस मामले में पुलिस ने बीसीसीआई के सीईओ सुंदर रामन का बयान  दर्ज करने के बाद अब  स्टेडियम में लगे ढाई सौ सीसीटीवी कैमरों की जांच करने का निर्णय लिए जाने की जानकरी पुलिस उपयुक्त जोन 1  रवीन्द्र शिसवे ने पत्रकार परिषद में दिया । 

      पुलिस उपयुक्त रविन्द्र शिसवे ने बताया की इस मामले में पुलिस ने  बीसीसीआई के सीईओ सुंदर रामन के साथ ही अन्य छह लोगो के  बयान दर्ज किया है सुन्दर ने दिए बयान  में मौखिक रूप से पुलिस को बताया है की प्रीति ने घटना के बाद इस की शिकायत किया था । पुलिस को जानकारी मिली है की प्रीति के साथ तीन बार छेड़ छाड़ और अपशब्द बोले जाने की घटना घटी  थी । पहले स्टाफ के सामने , सीट के पास और मैच ख़त्म होने के बाद मैदान में घटी  थी । पुलिस ने जानकारी दिया है की मैच के दौरान वानखेड़े स्टेडियम में कुल 251  सीसीटीवी कैमरे लगे थे जिसमे से 19 कैमरे सोनी टीवी के तरफ से लगाये गए थे । इस दौरान स्टेडियम में 37  हजार दर्शक मौजूद थे । इस के साथ ही किंग्स 11 के स्टाफ और खिलाडी भी मौजूद थे । पुलिस ने बीसीसीआई से स्टाफ और खिलाड़ियों की सूचि मांगी थी उस के अनुसार बीसीसीआई ने स्टाफ और खिलाड़ियों की सूचि दे दिया है पुलिस ने बताया की जो फुटेज टीवी पर दिखाया जा रहा है उस में नेस वाडिया नही बल्कि बीसीसीआई कर्मचारी और अधिकारी अंकित दिखाई दे रहे है । इस की जानकारी खुद अंकित ने पुलिस आयुक्त शिसवे को दिया है । इस मामले में पुलिस अब प्रीति के आने का इंतजार कर रही है शुक्रवार देर रात तक प्रीति आने के बाद उन का बयान  पुलिस दर्ज करने वाली है । 
 
पुलिस ने रवि पुजारी को ढूंढने के लिए बिछाया जाल
प्रिटी-नेस मामले में पुलिस गैंगस्टर रवि पुजारी के फोन कॉल्स को गंभीरता से ले रही है। पुलिस ने इस मामले में रवि पुजारी की भूमिका का पता लगाने के लिए जाल बिछा दिया है। पुलिसकर्मियों ने रवि पुजारी का पता लगाने के लिए प्रिटी जिंटा और वाडिया के सभी मुख्य सेल फोन नंबर्स को सर्विलांस पर लगा दिया है। मुंबई क्राइम ब्रांच की हफ्ता वसूली निरोधक प्रकोष्ठ (एंटी एक्सटॉर्शन सेल) से जुड़े सूत्रों ने बताया कि वाडिया ग्रुप के सभी मुख्य सेल नंबर्स को सर्विलांस पर लगा दिया गया है। इसके अलावा पुलिस प्रिटी जिंटा के नंबर्स की भी छानबीन कर रही है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, पुलिस अभी यह जानने की कोशिश कर रही है कि वाडिया को अभी भी गैंगस्टर रवि पुजारी की ओर से धमकाने वाली कॉल्स आ रही हैं या नहीं। 16 जून को वाडिया ग्रुप को 12.22 pm, 1.11pm, 1.13pm और शाम को 4.30pm बजे फोन कॉल्स आई थी, जबकि एक एसएमएस भी मिला था। यह सभी कॉल्स वाडिया के सेक्रेटरी को आई थीं, जिसका आईपी एड्रेस ईरान का पाया गया है ।